राज्य में खेल सुविधाओं को सुदृढ़ करें युवाओं को रचनात्मक कार्यों हेतु प्रोत्साहित करें : खेल मंत्री टंक राम वर्मा

Report manpreet singh

Raipur chhattisgarh VISHESH रायपुर। आज दिनांक 20 जून को, राज्य के खेल मंत्री श्री टंक राम वर्मा जी ने मंत्रालय में खेल एवं युवा कल्याण विभाग की समीक्षा बैठक ली एवं आवश्यक निर्देश दिए।

सर्वप्रथम विभाग की गतिविधियों एवं उपलब्धियों का प्रस्तुतीकरण किया गया। आगामी प्रस्तावित क्रियाकलापों का भी प्रस्तुतीकरण किया गया। प्रस्तुतीकरण के दौरान जानकारी दी गई कि उत्कृष्ट खिलाड़ी अलंकरण के शेष वर्षों के पुरस्कारों की घोषणा भी शीघ्र की जायेगी। केंद्र शासन के “खेलो इंडिया” के तहत प्राप्त वर्तमान बजट के साथ-साथ नवीन जिलों एवं नवीन खेलों के विकास हेतु प्रस्ताव प्रेषित करने की प्रक्रिया प्रचलन में है।

बैठक में माननीय खेल मंत्री जी ने निर्देश दिए हैं कि राज्य के मौजूदा खेल अंधोसंरचनाओं के रखरखाव एवं विस्तार पर कार्ययोजना बनाएं। खेल गतिविधियों एवं युवा रचनात्मक क्रियाकलापों को प्रोत्साहित करने हेतु सुदृढ़ 5 वर्ष की कार्ययोजना तैयार करने का निर्देश दिए।

“छत्तीसगढ़ क्रीड़ा प्रोत्साहन योजना” एवं “मुख्यमंत्री युवा रत्न” पुरस्कार की सुदृढ़ । एवं पारदर्शी योजना पर इस सत्र से क्रियान्वयन किया जाय।

बैठक में माननीय मंत्री जी ने कहा कि मध्य प्रदेश में स्थापित लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान से संबद्धता प्राप्त कर, छत्तीसगढ़ में भी इकाई महाविद्यालय प्रारंभ करने हेतु केंद्र स्तर पर प्रयास किया जाएगा।

माननीय मंत्री जी ने बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिया है कि राज्य के मान्यता प्राप्त खेल संगठनों, युवा संगठनों, खिलाड़ी, युवाओं को सुविधा, प्रशिक्षण एवं आर्थिक सहयोग हेतु तत्परता से कार्य किया जाय। इन कार्यों हेतु बजट की कमि बाधा नहीं होगी, वे स्वयं राज्य शासन एवं केंद्र शासन से इस हेतु प्रयास करेंगे।

मंत्री जी ने विभाग के रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया को तेज कर शीघ्र रिक्तियों को भरने के लिए निर्देशित किए। आपने सुझाव दिया कि भर्ती प्रक्रिया तक तदर्थ रूप से संविदा नियुक्तियां, विशेषकर कोचेस् हेतु विचार किया जाए।

मंत्री जी ने विभागीय अधिकारियों, कर्मचारियों की पदोन्नतियों, वेतनवृद्धि, समयमान वेतनमान, जांच प्रकरणों को त्वरित निराकृत करने के निर्देश दिए।

विभागीय वेबसाइट को अद्यतन करते हुए उपयोग योग्य बनाने के लिए निर्देश भी दिए गए।

उक्त समीक्षा बैठक में विभागीय सचिव श्री हिमशिखर गुप्ता, संयुक्त सचिव श्री तारण प्रकाश सिन्हा, संचालक श्रीमती तनुजा सलाम एवं मंत्रालय तथा संचालनालय के विभिन्न अधिकारीगण उपस्थित रहे।

मंत्री जी ने निर्देश दिए हैं कि छत्तीसगढ़ के सर्वाधिक लोकप्रिय एवं परंपरागत खेलों के संरक्षण, प्रोत्साहन एवं सुविधाओं हेतु पृथक से कार्य योजना तैयार करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

MATS UNIVERSITY

ADMISSION OPEN


This will close in 20 seconds