कानपुर में 3 जून को हुई हिंसा के चलते आज जुमे को लेकर पुलिस-प्रशासन पूरी तरह सतर्क – ऊपर ड्रोन, नीचे पुलिस और कहीं धारा 144, काशी से मथुरा तक हर शहर में जुमे पर सख्ती

Report manpreet singh

Raipur chhattisgarh VISHESH पिछले जुमा यानी तीन जून को कानपुर में भड़की हिंसा के चलते इस जुमे पर पूरे यूपी में अलर्ट है। फिरोजाबाद में गुरुवार की रात को चस्पा किए पोस्टरों को देखते हुए आज मुस्लिम कारीगर चूड़ी कारखानों में नहीं पहुंचे। करीब 150 कारखाने बंद रहे।शुक्रवार को सुबह से ही चूड़ी कारखानों में चूड़ियां नहीं खनकी। शहर में माहौल के बिगड़ने की आशंका को लेकर उद्यमियों की धड़कनें तेज रहीं। मुस्लिम कारीगरों के नहीं पहुंचने के चलते 80 प्रतिशत कारखानों में काम नहीं लग सका।बताया जा रहा है कि इस बंदी के चलते एक दिन में ही करोड़ों रुपयों का नुकसान हो गया है। शांति व्‍यवस्‍था बनाए रखने के लिए डीएम रवि रंजन, एसएसपी आशीष तिवारी सहित पूरा पुलिस प्रशासन लगातार शहर में भ्रमण करके जायजा ले रहा है। शहर के संवेदनशील इलाकों के ऊपर कैमरों से लैस ड्रोन उड़ रहे हैं। करबला, नगला बरी, रसूलपुर, थाना दक्षिण क्षेत्र, रामगढ़ क्षेत्र में लगातार ड्रोन कैमरों से छतों, गलियों पर नजर रखी जा रही है। कहीं भीड़ एकत्रित तो नहीं हो रही इस पर सबसे ज्यादा नजर है।

कानपुर से लेकर काशी, मथुरा, गोरखपुर, मेरठ, आगरा, फिरोजाबाद, मुजफ्फरनगर सहित पश्चिमी और पूर्वी यूपी के तमाम शहरों में मस्जिदों के बाहर और संवेदनशील इलाकों में चप्‍पे-चप्‍पे पर पुलिस की नज़र है। कहीं ड्रोन कैमरों की मदद से नज़र रखी जा रही है तो कहीं पुलिस गली-गली में गश्‍त कर रही है। कानपुर में धारा-144 लागू है। उधर, कल शाम गोरखपुर दौरे पर पहुंचे सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने उपद्रवियों को दो टूक संदेश दिया कि प्रदेश में कानून-व्‍यवस्‍था के साथ खिलवाड़ कतई बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा। उन्‍होंने अधिकारियों को जुमे पर कड़े सुरक्षा इंतजामों का निर्देश देते हुए कहा कि खुद सुनिश्चित करें किसी को किसी भी तरह की परेशानी न हो। इस बीच कई शहरों में एक दिन पहले सोशल मीडिया पर जमीयत-उल-ओलामा-ए-हिन्‍द नामक संगठन के भारत बंद का असर देखने को मिल रहा है। वाराणसी के दाल मंडी, नई सड़क, पीली कोठी, मदनपुरा, बजरडिहा में करीब 70 फीसदी दुकानें दोपहर तक बन्द हैं। पुलिस अधिकारी क्षेत्र में लगातार घूम रहे हैं। अपर पुलिस आयुक्त क़ानून व्यवस्था सुभाष चन्द्र दुबे और एसीपी दशाश्वमेध अवधेश पांडेय ने शुक्रवार को खुद चौक, बांसफाटक, दालमंडी, मदनपुरा में पैदल मार्च किया।

संवेदनशील इलाकों पर ड्रोन से निगरानी रखी जा रही है। मथुरा में सुबह से पुलिस बल तैनातमथुरा पुलिस ने भी जुमे की नमाज को लेकर सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद कर दी है। शहर से लेकर देहात क्षेत्र में ईदगाह, जामा मस्जिद के अलावा कस्बों में भी मस्जिदों के आसपास पुलिस बल अलर्ट है। कस्बा महावन, राया, कोसीकलां आदि क्षेत्र में सुबह से ही पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। बता दें कि इन क्षेत्रों में पुलिस के जवान गश्‍त कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर रहे हैं। एसपी सिटी एसपी देहात के अलावा सीओ भी अपने-अपने क्षेत्र में पुलिस बल के साथ भ्रमण कर रहे हैं।

फिरोजाबाद में गुरुवार की रात को चस्पा किए पोस्टरों को देखते हुए आज मुस्लिम कारीगर चूड़ी कारखानों में नहीं पहुंचे। करीब 150 कारखाने बंद रहे।शुक्रवार को सुबह से ही चूड़ी कारखानों में चूड़ियां नहीं खनकी। शहर में माहौल के बिगड़ने की आशंका को लेकर उद्यमियों की धड़कनें तेज रहीं। मुस्लिम कारीगरों के नहीं पहुंचने के चलते 80 प्रतिशत कारखानों में काम नहीं लग सका।बताया जा रहा है कि इस बंदी के चलते एक दिन में ही करोड़ों रुपयों का नुकसान हो गया है। शांति व्‍यवस्‍था बनाए रखने के लिए डीएम रवि रंजन, एसएसपी आशीष तिवारी सहित पूरा पुलिस प्रशासन लगातार शहर में भ्रमण करके जायजा ले रहा है। शहर के संवेदनशील इलाकों के ऊपर कैमरों से लैस ड्रोन उड़ रहे हैं। करबला, नगला बरी, रसूलपुर, थाना दक्षिण क्षेत्र, रामगढ़ क्षेत्र में लगातार ड्रोन कैमरों से छतों, गलियों पर नजर रखी जा रही है। कहीं भीड़ एकत्रित तो नहीं हो रही इस पर सबसे ज्यादा नजर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

MATS UNIVERSITY

ADMISSION OPEN


This will close in 20 seconds