लॉकडाउन में सायकल पर छत्तीसगढ़ से बिहार के लिए निकल पड़े 35 मजदूर , विधायक गुलाब कमरो मिलने पहुंचे और जानकारी ली

रिपोर्ट मनप्रीत सिंह 

 रायपुर छत्तीसगढ़ विशेष : कोरिया , लॉक डाउन के दौरान मजदूरों की परेशानी कम नही हो रही है। हालात यह है कि मजदूर खाने पीने और रहने में हो रही दिक्कतों के चलते घर लौटने को मजबूर हैं। ऐसे ही मजदूरों का समूह रविवार को लंबा सफर तय कर सायकल से घर जाते हुए कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ में सड़कों पर दिखाई दिया। साधन नहीं चलने से परिवार तक पहुंचने की चिंता में ये मजदूरी के पैसों से सायकल खरीदकर घर के लिए निकल पड़े। जानकारी के अनुसार रायपुर के सिलतरा में एक कम्पनी में बिहार के छपरा से काम करने पैंतीस मजदूर गए हुए थे।

इन मजदूरों को लॉक डाउन के दौरान 22 मार्च के बाद से अब तक कोई पैसा नही मिला। वहीं मध्यप्रदेश के जैतहरी के एक प्लांट में काम करने झारखंड के गढ़वा से आठ मजदूर गए हुए थे । जिस काम के लिए ये मजदूर गए थे उस प्लांट का काम शुरू नही हुआ । इस कारण इन सभी मजदूरों को भोजन और रहने की दिक्कत हो रही थी । मजबूरी में सभी सायकल की व्यवस्था कर घर के लिए निकल पड़े। रायपुर से ढाई सौ किलोमीटर की दूरी सायकल से तय कर मजदूर मनेन्द्रगढ़ पहुँचे। इन मजदूरों को आगे पांच सौ किलोमीटर का सफर और तय करना है। सड़क किनारे पेड़ के नीचे रुके इन मजदूरों की जानकारी मिलने पर इलाके के विधायक गुलाब कमरो मिलने पहुंचे और जानकारी ली। विधायक ने इन्हें आर्थिक सहयोग कर आगे जाने के लिए कलेक्टर से भी बात की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *