आईये वास्तुशस्त्र से देखे अपने घर को — वास्तु दोष से होती हैं बीमारियां और धन की हानि

रिपोर्ट मनप्रीत सिंह 

रायपुर छत्तीसगढ़ विशेष :  मान्यता है कि किसी घर का वास्तु सही नहीं है तो उस घर में रहने वाले सदस्यों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। घर में वास्तु दोष होने पर बीमारियां,धन की हानि और नकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है। आपके घर का वास्तु ठीक है या नहीं अगर कुछ चीजों पर गौर किया जाय तो इसे आसानी से समझकर दूर किया जा सकता है। वास्तु दोष होने पर लगातार कर्जों से व्यक्ति परेशान रहता है। बीमारियां आसानी से पीछा नहीं छोड़ती। वाद विवाद बढ़ते हैं, परिवार के सदस्यों के बीच मनमुटाव बना रहता है। आसानी से कोई भी काम पूरा नहीं होता। वास्तु के अनुसार ये सब परेशानियां घर में मौजूद वास्तु दोष के कारण आती है। ऐसे में घर में कुछ बदलाव कर इस परेशानियों को दूर कर सकते हैं।

1) हमेशा इस चीज का ध्यान रखें जब भी आप अपना नया घर बनवाएं या नया प्लैट खरीदते समय वास्तुदेवता की पूजा जरूर करवाएं।

2)घर के मुख्य द्वार पर ऊं और स्वास्तिक का निशान लगाना ना भूलें। ऊं और स्वास्तिक में काफी सकारात्मक ऊर्जा समाहित रहती है ऐसे में घर पर नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश घर के मुख्य दरवाजे से नहीं हो पाता।

3) घर के मुख्य दरवाजे पर घोड़े के पैरों की नाल लगाने से भी घर के अंदर नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं करती।

4) घर पर तुलसी का पौधा जरूर लगाएं और सुबह-शाम के समय घी का दीया भी जलाएं।

5) पूजा में शंख का प्रयोग करने और बजाने से घर पर सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है।

6) पूर्वजों की तस्वीर को दक्षिण दिशा की दीवार पर लगाना चाहिए। मंदिर में पूर्वजों की फोटो रखना अशुभ माना जाता है।

7) घर के ईशान कोण में काफी मात्रा में सकारात्मक ऊर्जा रहती है ऐसे में भूलकर भी इस कोण में किसी प्रकार का कचरा या भारी समान न रखें।.

वास्तु दोष दूर करने के उपाय

 घर के ब्रहम स्थान को हमेशा दोष मुक्त रहना चाहिए इसे घर पर सुख और शांति बनी रहती है। अगर आप कर्ज से परेशान हो तो आपके घर का वायव्य कोण( उत्तर-पश्चिम दिशा) में दोष हो सकता है। इसे दूर करने के लिए वास्तु के नियमों का पालन करें। लगातार परिवार के किसी सदस्य की सेहत ठीक न होने की वजह, घर के ईशान कोण में दोष हो सकता है। आर्थिक परेशानियों का लगातार सामना करने की वजह मुख्य द्वार का दक्षिण या पश्चिम दिशा में खुलना हो सकता है। इसे दूर करने से आर्थिक परेशानियां कम होती है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *